Kuldhara Village Story in Hindi |कुलधारा गांव की भूतिया कहानी और इतिहास

kuldhara village story in hindi

kuldhara village story in hindi दोस्तो आज हम बात करने वाले है | राजस्थान के एक भूतिया जग़ह के बारे में | वैसे तो राजस्थान अपने आप में कई रहस्य छुपाये बैठा है | हालांकि यह जग़ह इतनी ज्यादा चर्चो में रहती है | भारत नहीं बल्कि विदेश से पर्यटक यहाँ आते है | अपने इस के बारे में सुना होगा | पर आप इसकी पूरी कहानी नहीं जानते होंगे | kuldhara village kahani story in hindi

राजस्थान का एक भूतियां गाँव Kuldhara Village

वैसे राजस्थान नाम सुनते ही आप लोगों के मन में भानगढ़ का भूतिया किले का दर्शय आने लाग होगा | लेकिन में भानगढ़ की बात नहीं कर रहा हूँ | राजस्थान के जेशलमेर से 20 किमी की दुरी पर कुलधारा गांव स्थित है | kuldhara village story in hindi

कुलधारा 200 सालों से आज भी वीरान पड़ा हुआ है | इस गांव के हज़ारो लोगो एक ही रात में पूरा गांव खाली करके चले गए थे | और जाते जाते इस गांव को श्राप दिया | haunted village in rajasthan kuldhara कि गांव में कोई भी इंसान नही बस पायेगा | तभी से आज तक यह गांव वीरान पड़ा हुआ है | भारत सरकार और पुरात्त्विक वैज्ञानिको चेतावनी के अनुसार शाम के बाद यहाँ किसी भी इंसान की रुकने की अनुमति नहीं है |कुलधारा  गांव कहानी इस प्रकार है |

See also  Kumbhalgarh Fort In Hindi राजस्थान | भारत की महान दीवार | Story of Kumbhalgarh Fort

कुलधरा गांव का इतिहास | History of kuldhara village in Hindi

kuldhara village story in hindi

पहली कहानी इस प्रकार है | haunted  story in kuldhara village पुराने समय इस गांव में 84 गांव पालीवाल ब्राह्मण के हुआ करते थे | इस जग़ह का शसक दिवान सालम सिंह था | जिसकी बुरी नज़र ब्राह्मण की एक लड़की पर गई | दिवान सालम उस लड़की के प्यार में पागल और दिवान हो गया था | दिवान सालम ने गांव वालो को चेतावनी दी | कि उस लड़की से शादी वो करेगा | उस लड़की की शादी वो किसी और से होने नहीं दे रहा था | गांव वाले इस बात से बहुत परेशन थे | kuldhara village story

इसलिए गांव वालो ने सभी कुबरी लड़की के सामान के लिए यह फैसला किया | कि वो पूरा गांव रात ही रात में खाली करेंगे | तभी गांव वालो ने जाते समय गांव को श्राप दिया | कि आज के बाद इस गांव में कोई भी बस नहीं पायेगा | जब से आज तक यह गांव पूरा खली पड़ा हुआ है | horror fort in rajasthan

दूसरी कहानी यह है | कि दिवान सालम सिंह गांव वालों पर बहुत अधिक कर और जुलुम करता था | इसलिए गांव वालों ने यह पूरा गांव रातों-रातों खली कर दिया | kuldhara village horror story

उस दिन के बाद से आज तक यहाँ रूहानी ताकतों का बस है | ऐसा भी माना जाता है | कि शाम होते होते यह अजीब आवाज़ सुनी देती है | अगर इस गांव में कोई भी गाड़ी आती है | तो उसके पीछे एक हाथ और पैर का निशान बन जाता है | हलाकि यह बात कितनी सच और जुठ है | यह बात किसी को पता नहीं है | शाम के बाद इस गांव में किसी को भी रुकने की अनुमति नहीं है | kuldhara village hitstory in hindi

कुलधरा गांव कैसे पहुँचे | How to reach kuldhara village in Hindi

kuldhara village story in hindi

सड़क मार्ग द्वारा: भारत के प्रमुख सड़क मार्गों से जैसलमेर शहर अच्छी तरीक़े से जुड़ा हुआ है। प्रतिदिन दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र, जोधपुर और जयपुर से सीधी बस मिल जाती  है। अगर बस से आ रहे हो | by road visit kuldhara village तो बस वाले आपको जैसलमेर तक ही पहुंचगे | उसके बाद कुलधरा के लिए बस यह टैक्सी लेनी होगी। यह फिर आप पर्सनल वाहन लेकरसीधा कुलधरा पहुंच सकते हैं।

See also  Moti Dungri Mandir in Hindi | मोती डूंगरी मंदिर का इतिहास in Jaipur

रेल मार्ग द्वारा: कुलधरा का नजदीकी रेलवे स्टेशन जैसलमेर जो 22 किमी दुरी पर है | nearest railway station to Kuldhara is Jaisalmer भारत के सभी प्रमुख रेलवे स्टेशनो से जैसलमेर रेलवे स्टेशन जुड़ा हुआ है। हलाकि जैसलमेर के लिए हर दिन दिल्ली, जयपुर, जोधपुर, मुंबई और बेंगलुरु सीधी रेल चलती है। जैसलमेर रेलवे स्टेशन के बाहर से ही टैक्सी और बस मिलती हे | जो कुलधरा गांव जाती है |

हवाई मार्ग द्वारा: कुलधरा गांव का निकटतम हवाई अड्डा जैसलमेर जो 25 किमी कि दुरी पर स्थित हैं। जैसलमेर के लिए आपको दिल्ली, अहमदाबाद, मुंबई और बैंगलोर से कई हवाई जहाज़ मिल जाएंगे | जैसलमेर हवाई अड्डे के बाहर से कुलधरा गांव के लिए प्रिवेट टैक्सी मिल जाती है।

कुलधरा गांव मे घूमने का समय और प्रवेश शुल्क | kuldhara village timings & entry fees in hindi

कुलधरा गांव में घूमने का समय सुबह 8:00 बजे से शाम के 6:00 बजे तक रहता है। visiting time in Kuldhara village सूरज ढालने के बाद कुलधरा गांव के गेट बंद कर दिए जाते हैं। और कुलधरा गांव में भूत प्रेत के डर से रात में यहां पर कोई नहीं रहता।

कुलधरा गाँव में प्रत्येक व्यक्ति प्रवेश शुल्क10 रूपये | kuldhara village timings & entry fees यदि आप कार या मोटरसाइकिल से जा रहे तो |तो 50 रूपये देने होते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You May Also Like